Himachal Pradesh
13th Legislative Assembly ( Vidhan Sabha )

Session Related

  • प्रैस विज्ञप्ति

    21/08/2018

              आज दिनांक 21 अगस्त, 2018 को डॉ0 राजीव बिन्दल, माननीय अध्यक्ष हिमाचल प्रदेश विधान सभा  ने सरकारी पक्ष की ओर से माननीय संसदीय कार्य मंत्री, श्री सुरेश भारद्वाज  और प्रतिपक्ष से कांग्रेस  विधायक दल के नेता श्री मुकेश अग्निहोत्री के साथ अपने कक्ष में आगामी  विधान सभा सत्र को लेकर एक बैठक की। लगभग एक घण्टा चली इस बैठक में मानसून  सत्र से सम्बन्धित विषयों पर विस्तार से चर्चा की गई ।

               डॉ0 राजीव बिन्दल ने दोनों पक्षों से आग्रह किया कि सदन की कार्यवाही सुचारू रूप से चलाने के लिए सहयोग करें। उन्होंने सरकार से आग्रह किया कि प्रश्नों के उत्तर और अन्य नियमों के अन्तर्गत लगाये गये विषयों पर सरकार पूरी तैयारी के साथ माननीय सदन में उत्तर प्रस्तुत करें।

               उन्होंने काँग्रेस विधायक दल के नेता, श्री मुकेश अग्निहोत्री से आग्रह किया कि सदन की कार्यवाही जितनी सुचारू चलेगी उतना ही प्रतिपक्ष को अपनी बात माननीय सदन में रखने का समय मिलेगा।

                 डॉ0 राजीव बिन्दल ने यह भी आश्वस्त किया कि नियमों की परीधि व समय उपलब्धता के अनुसार माननीय विधायकों के जो भी विषय प्राप्त होंगे,उसके लिए माननीय विधायकों को समय उपलब्ध करवाया जायेगा।

    (हरदयाल भारद्वाज),
    उप-निदेशक,
    लोक संपर्क एवं प्रोटोकॉल, 
    हि0प्र0 विधान सभा ।
     

  • विधान सभा अध्यक्ष ने की सुरक्षा प्रबन्धों से सम्बन्धित बैठक की अध्यक्षता।

    21/08/2018

                 पिछले कल अपराह्न 4:30 बजे हिमाचल प्रदेश विधान सभा के माननीय अध्यक्ष डॉ0 राजीव बिन्दल ने मानसून सत्र के दृष्टिगत सुरक्षा प्रबन्धों से सम्बन्धित विधान सभा सचिवालय में एक महत्वपूर्ण बैठक की अध्यक्षता की। इस बैठक में श्री यशपाल शर्मा, सचिव हिमाचल प्रदेश विधान सभा, श्री अमित कश्यप जिलाधीश, जिला शिमला, श्री ओमपति जम्वाल पुलिस अधीक्षक जिला शिमला, श्री विरेन्द्र शर्मा पुलिस अधीक्षक, गुप्तचर (सुरक्षा), श्री बलबीर सिंह कमाण्डैंट होम गार्ड तृतीय वाहिनी शिमला  तथा श्री रमेश शर्मा, संयुक्त सचिव, विधान सभा शामिल थे।

                बैठक में महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया कि विधान सभा सचिवालय में ई-प्रवेश पत्र online आवेदन पर ही दिया जाएगा। ई-विधान प्रणाली के तहत विधान सभा सचिवालय इसे online तरीके से मुद्रित करेगी। यह आवेदन सभी ई-प्रवेश पत्र पाने वालों को अनिवार्य है। विधान सभा सचिवालय में ई-प्रवेश पत्र की जांच हेतु पुलिस द्वारा कम्पयुट्रीकृत जांच केन्द्र मुख्य द्वारों पर स्थापित किए जाएगें ताकि कम से कम असुविधा हो तथा जांच भी  पूर्ण हो।

                 श्री बिन्दल ने कहा कि पूर्व की भांति इस बार भी क्यु. आर. कोड के माध्यम से फोटो युक्त ई-प्रवेश पत्र को लेपटॉप के माध्यम से प्रमाणित किया जाएगा। इन केन्द्रों पर हर व्यक्ति का डाटाबेस बनेगा जिसे पुलिस नियंत्रण कक्ष से मोनिटर करेगी। उन्होंने कहा कि ई-प्रवेश पत्र ई-विधान के अंतर्गत बनाये जाएंगे। बैठक में सदस्य तथा आगंतुकों को कम से कम असुविधा हो के दृष्टिगत यह निर्णय लिया  गया कि आगामी मॉनसून सत्र के दौरान विधान सभा सचिवालय द्वारा जारी अधिकारी दीर्घा पास, स्थापना पास तथा प्रैस संवाददाताओं को जारी किए पास प्रमुखता से प्रदर्शित किए जाएगें, ताकि सुरक्षा कर्मियों द्वारा फ्रिस्किंग की कम से कम आवश्यकता रहे।

               प्रैस संवाददाताओं की सुविधा एंव सार्वजनिक सुरक्षा को देखते हुए बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि प्रैस संवाददाताओं का प्रवेश यथावत् गेट नं. 3,4,5, व 6 से ही रखा जाए। विधान सभा सचिवालय के अधिकारियों और कर्मचारियों को भी अपने पहचान पत्र प्रमुखता से प्रदर्शित करने होंगे। इसके अतिरिक्त यह भी निर्णय लिया गया कि कोई भी सरकारी अधिकारी/ कर्मचारी व अन्य पास धारक अपना शासकीय पास किसी अन्य को स्थानांतरित नहीं करेगा, अन्यथा कानूनी कारवाई अमल में लाई जा सकती है।

               बैठक में निर्णय लिया गया कि विधान सभा परिसर की मुख्य पार्किंग में केवल मंत्रियों, विधायकों, मुख्य सचिव, अतिरिक्त मुख्य सचिवों एवं प्रशासनिक सचिवों के वाहनों को ही पार्किंग करने की अनुमति प्रदान की जाएगी। इस बार प्रैस संवाददाताओं को महालेखाकार चौक से गेट न0. 2 तक (30 मीटर जगह गेट न0. 2 की ओर छोड़कर ) गाड़िया पार्किग करने की सुविधा रहेगी जबकि विधान सभा सचिवालय के अधिकारियों व कर्मचारियों को गेट न0. 2 से  बांयी  ओर 30 मीटर जगह छोड़कर कनैडी चौक तक गाड़ियां पार्क करने की सुविधा उपलब्ध रहेगी । इसके अतिरिक्त विधान सभा सचिवालय के अधिकारी व कर्मचारी अपनी गाड़िया चौड़ा मैदान में भी पार्क कर सकेंगे।

               आगे यह भी निर्णय लिया गया कि विधान सभा सचिवालय की ओर से जारी पार्किंग स्टिकरज वाहन के आगे प्रमुखता से प्रदर्शित किए जाएंगे, ताकि धारको  को  कम से कम असुविधा का सामना करना पडे़।

    (हरदयाल भारद्वाज),
    उप-निदेशक,
    लोक संपर्क एवं प्रोटोकॉल, 
    हि0प्र0 विधान सभा ।
      

  • विधान सभा अध्यक्ष ने की सुरक्षा प्रबन्धों से सम्बन्धित बैठक की अध्यक्षता।

    27/02/2018

                आज दिनांक 27 फरवरी 2018 को हिमाचल प्रदेश विधान सभा के माननीय अध्यक्ष डॉ0 राजीव बिन्दल ने आगामी बजट सत्र के दृष्टिगत सुरक्षा प्रबन्धों से सम्बन्धित विधान सभा सचिवालय में एक महत्वपूर्ण बैठक की अध्यक्षता की। इस बैठक में श्री दिलजीत सिंह ठाकुर,  पुलिस महानिरिक्षक, सतर्कता, हिमाचल प्रदेश, श्री सुन्दर सिंह वर्मा, सचिव हिमाचल प्रदेश विधान सभा, श्री अमित कश्यप जिलाधीश, जिला शिमला, श्री ओमपति जम्वाल पुलिस अधीक्षक जिला शिमला, श्री विरेन्द्र शर्मा पुलिस अधीक्षक, गुप्तचर (सुरक्षा), श्रीमती प्रभा राजीव अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी  जिला शिमला (कानून एवं व्यवस्था),  श्री बलबीर सिंह कमाण्डैंट होम गार्ड तृतीय वाहिनी शिमला  तथा श्री देवेन्द्र वर्मा अवर सचिव (प्रशासन) विधान सभा शामिल थे।
                बैठक में महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया कि विधान सभा सचिवालय में ई-प्रवेश पत्र online तथा लिखित  आवेदन पर ही दिया जाएगा। ई-विधान प्रणाली के तहत विधान सभा सचिवालय इसे online तरीके से मुद्रित करेगी। यह आवेदन सभी ई-प्रवेश पत्र पाने वालों को अनिवार्य है। विधान सभा सचिवालय में ई-प्रवेश पत्र की जांच हेतु पुलिस द्वारा कम्पयुट्रीकृत जांच केन्द्र मुख्य द्वारों पर स्थापित किए जाएगें ताकि कम से कम असुविधा हो तथा जांच भी  पूर्ण हो।
                श्री बिन्दल ने कहा कि पूर्व की भांति इस बार भी क्यु. आर. कोड के माध्यम से फोटो युक्त ई-प्रवेश पत्र को लेपटॉप के माध्यम से प्रमाणित किया जाएगा। इन केन्द्रों पर हर व्यक्ति का डाटाबेस बनेगा जिसे पुलिस नियंत्रण कक्ष से मोनिटर करेगी। उन्होंने कहा कि ई-प्रवेश पत्र ई-विधान के अंतर्गत बनाये जाएंगे। बैठक में सदस्य तथा आगंतुकों को कम से कम असुविधा हो के दृष्टिगत यह निर्णय लिया  गया कि आगामी मॉनसून सत्र के दौरान विधान सभा सचिवालय द्वारा जारी अधिकारी दीर्घा पास, स्थापना पास तथा प्रैस संवाददाताओं को जारी किए पास प्रमुखता से प्रदर्शित किए जाएगें, ताकि सुरक्षा कर्मियों द्वारा फ्रिस्किंग की कम से कम आवश्यकता रहे।
                आगे यह भी निर्णय लिया गया कि विधान सभा सचिवालय की ओर से जारी पार्किंग स्टिकरज वाहन के आगे प्रमुखता से प्रदर्शित किए जाएंगे, ताकि धारको  को  कम से कम असुविधा का सामना करना पडे़। मोबाईल फोन, पेज़र आदि विधान सभा के अन्दर ले जाने पर पूर्णत: प्रतिबन्ध रहेगा।
                बैठक उपरान्त विधान सभा अध्यक्ष डॉ0 राजीव बिन्दल ने गाड़ियों की चिन्हित जगह पर पार्किंग तथा परिसर में चल रही अन्य तैयारियों का जायजा लेने के लिए विधान सभा परिसर का अधिकारियों के साथ दौरा किया तथा सत्र के दौरान कोई भी अव्यवस्था न हो के बारे जिला प्रशासन को उचित दिशा निर्देश दिए ।


    (हरदयाल भारद्वाज),
    उप-निदेशक,
    हि0प्र0 विधान सभा ।

Page 1 of 5