Himachal Pradesh
13th Legislative Assembly ( Vidhan Sabha )
  • सत्र के आरम्भ में माननीय अध्यक्ष महोदय का सम्बोधन।

    07/09/2020

      मॉनसून सत्र में भाग लेने के लिए मैं इस माननीय सदन के समस्त सदस्यों का अभिनन्दन करता हूं और आभार व्यक्त करता हूं। विशेष तौर पर माननीय सदन के नेता, श्री जय राम ठाकुर जी, पूर्व में मुख्य मंत्री रहे आदरणीय श्री वीरभद्र सिंह जी, विपक्ष के नेता, श्री मुकेश अग्निहोत्री जी, संसदीय कार्य मंत्री, श्री सुरेश भारद्वाज जी, उपाध्यक्ष श्री हंस राज जी, सभी आदरणीय मंत्रीगण और विधायकगण वर्षाकालीन सत्र में भाग लेने के लिए पहुंचे हैं, यहां आप सभी का कोटिश: अभिनन्दन है। हांलाकि आज पूरा विश्व, भारत व प्रदेश कोरोना महामारी से जूझ रहा है फिर भी कुछ ऐसी संवैधानिक जिमेदारियां है जिन्हें निभाना परम् आवश्यक है। हांलाकि सत्र का आयोजन करना एक चुनौतिपूर्ण कार्य था लेकिन विधान सभा सचिवालय ने सजगता व दृढ़ता के साथ इसके आयोजन को सफल बनाने का सार्थक प्रयास किया है। कोरोना महामारी से सभी को सुरक्षित रखने के लिए जहां विधान सभा परिसर, भवन तथा सदन को एक दिन में दो बार सैनिटाईज करने की व्यवस्था की है वहीं विधान सभा के सभी मुख्य द्वारों पर पैडल द्वारा चालित हैंड सैनिटाईजर की भी व्यवस्था की है। परिसर में प्रवेश से पूर्व थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है तथा किसी भी आगन्तुक को परिसर तथा दर्शक दीर्धा में प्रवेश हेतु पास जारी नहीं किये जायेंगे। सदन में माननीय सदस्य एक दूसरे के सम्पर्क से दूर रहे इसके लिए 6 फुट उँची पोलीकार्बोनेट शिटस से आसन को पृथक किया गया है। सभी माननीय सदस्यों, मिडिया के साथियों तथा सदन के संचालन से जुड़े सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को सर्जिकल फेस मास्क तथा सैनिटाईजर वितरित किये जा रहे हैं।

      सत्र के दौरान किसी को भी कोरोना के लक्षण पाये जाने पर जहां आईसोलेशन रूम की व्यवस्था की गई है वहीं एक टैस्टिंग वैन तथा एम्बुलैंस भी तैनात रहेगी।  विधान सभा के बजट सत्र की बैठकें 23 मार्च, 2020 को कोरोना महामारी की वजह से अनिश्चित काल के लिए स्थगित करनी पड़ गई थी। लेकिन संवैधानिक व्यवस्था  को बनाये रखने के लिए 22 सितम्बर, 2020 से पूर्व सत्र का आयोजन करना अनिवार्य था। इसलिए इस सत्र को बुलाया गया है। हम आशा करते है कि 10 दिन चलने वाला यह वर्षाकालीन सत्र जिसमें 10 कार्य दिवस होंगे, प्रदेश हित में उनका अधिक से अधिक उपयोग करके माननीय सदस्य इसका लाभ उठाएं और अपनी बात को नियमों की परिधि में रख कर चर्चाओं को सार्थक बनाने में हमारा सहयोग करें। मुझे सदन में पहले भी पक्ष एवं प्रतिपक्ष दोनों का सहयोग मिलता आया है और मैं आशा करता हूं कि यह पुन: मुझे इस सदन और इस सत्र में भी प्राप्त होगा।

       कोविड 19- के दृष्टिगत में समस्त माननीय सदस्यों से अनुरोध करता‍ हूं कि कोई भी माननीय सदस्य Well में प्रवेश नहीं करेगा और अपने-अपने स्थान पर खडे होकर ही अपनी बात रखेगें तथा सदन के अन्दर, लोबियों, डाईनिंग हॉल में भी तथा विधान सभा परिसर के बाहर भी सामाजिक दूरी के नियमों की पालना करें।

    (हरदयाल भारद्वाज),
    उप-निदेशक,
    लोक संपर्क एवं प्रोटोकॉल, 
    हि0प्र0 विधान सभा ।